Maha Shivratri Vrat Katha – महाशिवरात्रि की कथा

महा शिवरात्रि व्रत विधिभगवान शिव की पूजा-वंदना करने के लिए प्रत्येक माह के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि (मासिक शिवरात्रि) को व्रत रखा जाता है। लेकिन सबसे बड़ी शिवरात्रि फाल्गुन … Read More

Vat Savitri Vrat Katha – वट सावित्री व्रत कथा

ऐसे करें वट सावित्री व्रत और पूजनसुहागन स्त्रियां वट सावित्री व्रत के दिन सोलह श्रृंगार करके सिंदूर, रोली, फूल, अक्षत, चना, फल और मिठाई से सावित्री, सत्यवान और यमराज की … Read More

Hanuman ki katha – मंगलवार व्रत की कथा

भारत में हनुमान जी को अजेय माना जाता है. भारत में हनुमान जी को अजेय माना जाता है. मंगलवार व्रत की कथा (Hanuman ji ki katha) हनुमान जी को प्रसन्न … Read More

Navratri Vrat Katha – नवरात्रि आरती

Navratri vrat katha,चैत्र व आश्विन मास के शुक्लपक्ष में नवरात्रि का व्रत किया जाता है और नवरात्रि व्रत कथा और गरबा (Garba) खेला जाता है,गुजरात में लोग इस दिन व्रत … Read More

Solha Somvar vrat katha – सोलह सोमवार व्रत कथा –

सोलह सोमवार व्रत कथा सप्ताह के प्रथम दिवस सोमवार को रखा जाता है।यह व्रत भगवान शिवजी के लिये रखा जाता है। 16 सोमवार व्रत विधि विधिसोलह सोमवार के दिन भक्तिपूर्वक … Read More

रविवार व्रत कथा – Ravivar Vrat katha

सभी मनोकामनाएं पूर्ण करनेवाले और जीवन में सुख-समृद्धि, धन-संपत्ति और शत्रुओं से सुरक्षा हेतु सर्वश्रेष्ठ व्रत रविवार की कथा इस प्रकार से है- प्राचीन काल में एक बुढ़िया रहती थी. … Read More

Shanivar vrat katha – शनिवार व्रत कथा

Shanivar vrat katha , शनि पक्षरहित होकर अगर पाप कर्म की सजा देते हैं तो उत्तम कर्म करने वाले मनुष्य को हर प्रकार की सुख सुविधा एवं वैभव भी प्रदान … Read More

Sukarvar vrat katha – संतोषी माता व्रत कथा

शुक्रवार के दिन संतोषी माता व्रत कथा – तथा वैभव लक्ष्मी देवी का भी पूजन किया जाता है. इस पूजा के अंत में माता की शुक्रवार व्रत कथा सुनी जाती … Read More

Brihaspativar Vrat Katha – बृहस्पतिवार व्रत कथा

 उपवास सप्ताह के दिवस बृहस्पतिवार को रखा जाता है। बृहस्पतिवार व्रत की कथा (Brihaspativar Vrat Katha) सुनने और पूजा विधि करने से भगवान बृहस्पति देव बहुत प्रस्सन होते है बृहस्पतिवार व्रत की कथा … Read More

Budhvar vrat katha – बुधवार व्रत कथा और विधि

बुधवार का व्रत बुध देव को प्रसन्न करने लिए और बुध गृह की शांति के लिए किया जाता है इस दिन पुरे विधि के साथ पूजा की जाती है और … Read More